झारखण्ड फसल राहत योजना 2021: ऑफलाइन आवेदन (फसल राहत योजना) पंजीकरण प्रक्रिया

केंद्र सरकार और सभी राज्य सरकारों द्वारा किसानों की आय में वृद्धि करने का निरंतर प्रयास किया जाता है। कई बार किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण भी नुकसान उठाना पड़ता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए झारखंड सरकार द्वारा झारखंड फसल राहत योजना का आरंभ किया गया है। झारखंड सरकार ने झारखंड फसल राहत योजना प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के स्थान पर आरंभ की है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि झारखंड फसल राहत योजना क्या है ?, इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप झारखंड फसल राहत योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

झारखंड फसल राहत योजना

इस योजना के अंतर्गत यदि किसानों को किसी भी प्राकृतिक आपदा के कारण फसल का नुकसान होता है तो इस स्थिति में बीमा कंपनी द्वारा पंजीकृत किसान को नुकसान की राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसानों को प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा। फसल राहत योजना के अंतर्गत सूखा पड़ना, ओले पड़ना आदि जैसी प्राकृतिक आपदाओं में शामिल हुए गए हैं। यदि प्रदेश के किसान योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करवाना होगा। झारखंड फसल राहत योजना की वजह से अब किसानों को नुकसान नहीं होगा जिससे उनकी आय बढ़ेगी और वह आत्मनिर्भर बनेंगे। इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए झारखंड सरकार द्वारा 100 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। ऐसा माना जा रहा है कि यह योजना दिसंबर 2020 के अंत तक आरंभ कर दी जाएगी।

झारखंड फसल राहत योजना के साथ किसानों का ऋण माफ किया जाएगा

राज्य सरकार ने झारखंड फसल राहत योजना के साथ किसानों का ऋण माफ करने का भी निर्णय लिया है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को दिए गए ऋण को माफ किया जाएगा। जिसके लिए सरकार द्वारा 2000 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। इस योजना को भी दिसंबर 2020 के अंत तक आरंभ कर दिया जाएगा। ऋण माफ करने के लिए सरकार द्वारा एक पोर्टल भी शुरू किया जाएगा। जिसमें सभी किसानों का डेटा एकत्र किया जाएगा। प्रशासन द्वारा सभी बैंकों से सभी ऋण के लिए किसानों का आधारआई नेबल करने के लिए कहा जा रहा है। अब तक कुल 12 लाख लोन अकाउंट में से 6 लाख लोन अकाउंट का आधार इस् हो चुका है।

फसल राहत योजना की मुख्य विशेषताएं

  • योजना का नाम:- झारखंड फसल राहत योजना
  • किसने लॉन्च की:-  झारखंड सरकार
  • लाभार्थी:- झारखंड के नागरिक
  • उद्देश्य:- फसल का नुकसान होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करना।
  • आधिकारिक वेबसाइट:- जल्द ही लॉन्च होगी
  • वर्ष:- 2021

झारखंड फसल राहत योजना का उद्देश्य

झारखण्ड फसल राहत योजना का मुख्य उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान में किसानों की आर्थिक सहायता करना है। इस योजना के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और वह सशक्त बन जाएगी। फसल राहत योजना के माध्यम से किसानों की आय में भी वृद्धि होगी। अब किसान फसल को होने वाले नुकसान की गतिविधियों से मुक्त रहेंगे और खेती की तरफ उनका ध्यान लग पाएगा।

फसल राहत योजना झारखंड के लाभ और सुविधाएँ

  • झारखण्ड फसल राहत योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल पर नुकसान होने पर आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना को सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के स्थान पर आरंभ किया है।
  • इस योजना के तहत नुकसान की राशि पंजीकृत किसानों को बीमा कंपनी द्वारा प्रदान की जाएगी।
  • सभी किसान जो झारखंड फसल राहत योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, उन्हें इस योजना के तहत पंजीकरण करवाना होगा।
  • झारखंड फसल राहत योजना के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि होगी और वे आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • झारखंड फसल राहत योजना के कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 100 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • झारखंड फसल राहत योजना के तहत पंजीकृत किसानों को प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा।
  • इस योजना को दिसंबर 2020 के अंत तक आरंभ कर दिया जाएगा।

झारखंड फसल राहत योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज (पात्रता)

  • किसान झारखंड का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • वह सभी किसान इस योजना के पात्र होंगे जो पहले से किसी बीमा योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं।
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • किसान का आईडी कार्ड
  • बैंक खाता
  • निवास प्रमाण पत्र
  • खेत का खाता नंबर / खसरा नंबर के कागज
  • पास साइज फोटोग्राफर
  • फ़ोन नंबर
  • आय प्रमाण पत्र

झारखंड फसल राहत योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप झारखंड फसल राहत योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा। सरकार द्वारा अभी तक केवल इस योजना की घोषणा की गई है। जल्द ही झारखंड फसल राहत योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया सरकार द्वारा बताई जाएगी। जैसे ही सरकार द्वारा झारखण्ड फसल अवशेष योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया सक्रिय की जाएगी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से ज़रूर चिह्नित करेंगे। हमारे इस लेख से जुड़े रहे।

Post a comment (0)
Previous Post Next Post